Latest Headlines

इस महीने में 18 हजार करोड़ रुपए के इश्यू लाइन में, जून में 5 कंपनियों ने जुटाया था पैसा


  • महीने का पहला IPO जी.आर इंफ्रा का है जो 7 को खुलेगा और 9 जुलाई को बंद होगा
  • इसका मूल्य दायरा 828 से 837 रुपए रखा गया है। यह इँफ्रा प्रोजेक्ट में काम करती है

IPO बाजार गुलजार हो रहा है। इस महीने में 18 हजार करोड़ रुपए के IPO आने की तैयारी में हैं। कुल 11 कंपनियां अपने इश्यू लाने वाली हैं। इसमें जोमैटो सबसे बड़ा इश्यू लाने की योजना में है। महीने का पहला IPO जी.आर इंफ्रा का है जो 7 को खुलेगा और 9 को बंद होगा। इसका मूल्य दायरा 828 से 837 रुपए रखा गया है। यह कंपनी इँफ्रा प्रोजेक्ट में काम करती है।

जोमैटो का सबसे बड़ा इश्यू

इस महीने जिन 11 कंपनियों की तैयारी है उसमें जोमैटो 8,250 करोड़ रुपए का IPO लाएगा। यानी महीने भर में जितनी रकम IPO से जुटेगी, उसका आधा हिस्सा जोमैटो जुटाएगा। यह फूड डिलिवरी कंपनी है। ग्लेनमार्क लाइफ साइसेंस 1,800 करोड़ रुपए जुटाएगी तो क्लीन साइंस 1,500 करोड़ रुपए जुटाने की योजना बना रही है। उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक 1,350 करोड़ रुपए, कृष्णा डायग्नोस्टिक 1,200 करोड़ रुपए जुटाएगी।

800-800 करोड़ रुपए के भी IPO

इसी तरह श्रीराम प्रॉपर्टीज और जी.आर. इंफ्रा 800-800 करोड़ रुपए के इश्यू लाएंगे। रोलेक्स रिंग्स, विंडलैश बायोटेक और सेवेन आइसलैंड 600-600 करोड़ रुपए जुटाएंगी। तत्व चिंतन फार्मा 500 करोड़ रुपए IPO के जरिए जुटाने की योजना बना रही है। इससे पहले जून महीने में

कुल 5 कंपनियों ने IPO लाया था।

11 सालों में दूसरी बार ऐसा होगा

वैसे पिछले 11 सालों में यह दूसरी बार होगा, जब एक महीने में इतनी कंपनियां इश्यू ला रही हैं। इससे पहले सितंबर 2010 में 15 कंपनियों ने इस रास्ते से पैसा जुटाया था। इन कंपनियों ने 4,100 करोड़ रुपए जुटाए थे। सितंबर 2011 में 9 कंपनियों ने 622 तो सितंबर 2017 में 7 कंपनियों ने 16,668 करोड़ रुपए की रकम जुटाई थी। मार्च 2018 में 15 हजार करोड़ से ज्यादा की रकम 8 कंपनियों ने जुटाई थी। सितंबर 2020 में 8 कंपनियों ने 7,128 और इस साल मार्च में 9 कंपनियों ने 6,081 करोड़ रुपए जुटाया था।

बाजार में तेजी है

दरअसल इस समय बाजार में तेजी है और जो भी इश्यू अब तक आए हैं सबका सब्सक्रिप्शन बेहतरीन रहा है। यहां तक कि इन इश्यू ने लिस्टिंग के बाद रिटर्न भी अच्छा दिया है। जोमैटो का IPO मार्च 2020 के बाद सबसे बड़ा होगा। एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट ने मार्च 2020 में 10 हजार करोड़ रुपए जुटाया था। जबकि जोमैटो 8,250 करोड़ रुपए जुटाएगा।

निवेशक लगा रहे हैं पैसा

जानकारों के मुताबिक, इस समय बाजार में काफी लिक्विडिटी है और निवेशक IPO में पैसा लगा भी रहे हैं। इसलिए कंपनियों को अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। जबकि निवेशकों को इसके जरिए कमाने का अवसर मिल रहा है। इस साल में कुल आए 22 IPO में से 7 कंपनियों के शेयरों ने 50 से 113 पर्सेंट तक का रिटर्न दिया है। जबकि 10 IPO ने 10 से 40 पर्सेंट का फायदा दिया है। केवल 4 कंपनियों ने निवेशकों को घाटा दिया है।



Related posts

इस प्रकार बच्चों को संक्रमण से बचायें  

admin

मुझे नहीं पता कब तक एक्टिंग करुंगी: काजल अग्रवाल

admin

कर्मचारी नेता की गुंडई आई सामने / KANPUR NEWS DD BHARATI SAMACHAR

admin