Latest Headlines

इस साल पहली बार एक दिन में 276 मौतें, नए केस 47 हजार के पार


नई दिल्ली | कोरोना की नई लहर के कहर के चलते अब मौतों का आंकड़ा भी बढ़ने लगा है। मंगलवार को देश भर में कोरोना संक्रमण से 276 लोगों की मौत हो गई। एक ही दिन में कोरोना से इतने लोगों की मौत का यह इस साल का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसके अलावा नए केसों की संख्या भी 47,281 रही है, जो बीते साल 11 नवंबर के बाद किसी एक दिन में मिले सबसे ज्यादा केस हैं। वहीं मौतों की बात करें तो बीते साल 30 दिसंबर के बाद पहली बार इतनी संख्या में लोगों की कोरोना के चलते मौत हुई है। 30 दिसंबर को कोरोना संक्रमण की वजह से 300 लोगों की मौत हो गई थी। बीते दो दिनों से तुलना करें तो मौतों के आंकड़े में यह बड़ा उछाल है। सोमवार को कोरोना संक्रमण से 197 लोगों की मौत का आंकड़ा दर्ज किया गया था, वहीं रविवार को 213 लोग कोरोना के चलते काल के गाल में समा गए थे। इनमें भी सबसे ज्यादा डरावना आंकड़ा महाराष्ट्र का है। बीते 24 घंटे में महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 134 मौतें हुई हैं। बीते साल 20 नवंबर के बाद सूबे में कोरोना के चलते यह मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। तब महाराष्ट्र में 155 लोगों की मौत हुई थी।  

पाबंदियों के बाद भी कोरोना पर लगाम नहीं: कई शहरों में नाइट कर्फ्यू, लॉकडाउन और संस्थानों को बंद करने जैसे  कदम उठाने के बाद भी कोरोना के मामलों में हो रहा इजाफा चिंताओं को बढ़ाने वाला है। बता दें कि सीएम उद्धव ठाकरे कई बार यह दोहरा चुके हैं कि यदि कोरोना की लहर पर काबू नहीं पाया गया तो फिर लॉकडाउन का फैसला लिया जा सकता है।

महाराष्ट्र के बाद पंजाब पर कहर: उत्तर भारत में पंजाब में कोरोना का कहर सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है। सूबे में मंगलवार को कोरोना के चलते 53 लोगों की ममौत हो गई। इसके अलावा छत्तीसगढ़ में 20, केरल में 10 और तमिलनाडु में 9 लोगों की मौत की खबर है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 28,699 केस मिले हैं। इससे पहले रविवार को भी सूबे में 30,535 केस मिले थे। अकेले मुंबई शहर में ही लगातार तीसरे दिन 3,000 से ज्यादा नए केस मिले हैं।

दिल्ली, हरियाणा और यूपी में भी बढ़ा संकट: राजधानी दिल्ली में भी कोरोना की नई लहर ने हलचल मचा दी है। मंगलवार को 1,101 नए केस दर्ज किए गए हैं। बीते साल 19 दिसंबर के बाद पहली बार इतनी बड़ी संख्या में एक दिन में इतने केस मिले हैं।  हरियाणा में भी नए केसों की संख्या बढ़कर 895 पहुंच गई, जबकि यूपी में 638 केस मिले हैं। यह आंकड़ा इस साल 10 जनवरी के बाद से सबसे ज्यादा है।  

 



Related posts

UP Election 2017 : बहराइच में स्वास्थ्य सेवाओं का बुरा हाल

admin

करेंगे हनुमान जी के इन शाबर मंत्रों का जप तो नहीं होगा बाल भी बांका

admin

कैसा रहेगा आपका आज का दिन (20 अप्रैल 2021) – indianewsportal.com

admin