Latest Headlines

क्या 1 जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा DA व DR एरियर?


52 लाख से ज्यादा केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 62 लाख पेंशनर्स को जुलाई का बेसब्री से इंतजार है। इस दिन महंगाई भत्ता (डीए) और महंगाई राहत (डीआर) लाभ बहाल होने की पूरी संभावना है। इससे कर्मचारियों की सैलरी में बंपर इजाफा होगा। वहीं, पेंशनर्स की पेंशन में भी बढ़ोतरी हो जाएगी। हालांकि शनिवार 26 जून को हुई बैठक के बाद अभी कोई आखिरी फैसला नहीं लिया गया है। सूत्रों के मुताबिक महंगाई भत्ते को जल्द ही जारी करने की उम्मीद लगाई जा रही है। जल्द ही इस पर भी केंद्रीय कैबिनेट की ओर से फैसला लिया जा सकता है।बता दें इस समय केंद्रीय कर्मचारियों का करीब 3 किस्तों का डीए रुका हुआ है, जिस पर सरकार को निर्णय लेना है। पीएम नरेंद्र मोदी और कैबिनेट के सामने कर्मचारियों की डिमांड रखी जाएंगी, हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि कौन सी कैबिनेट मीटिंग में इस पर चर्चा होगी। बता दें केंद्रीय कर्मचारियों को 17 फीसद DA मिल रहा है, लेकिन पिछले साल जनवरी में 4 फीसदी का इजाफा हुआ था। फिर जून 2020 में महंगाई भत्ता 3 फीसदी बढ़ा था। इसके अलावा जनवरी 2021 में भी डीए 4 फीसदी बढ़ा है। अब महंगाई भत्ता 28 फीसदी पर पहुंच जाएगा

कितना मिलेगा डीए, ऐसे करें कैलकुलेट

नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम के सेक्रेटरी (स्टाफ साइड) शिव गोपाल मिश्रा के मुताबिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों को seventh सीपीसी वेतन कैलकुलेटर का उपयोग करते समय अपने संबंधित 7 वें सीपीसी सैलरी मैट्रिक्स देखना चाहिए। उन्होंने कहा, “यह जानने के लिए कि डीए बहाली के बाद मासिक वेतन कितना बढ़ेगा, तो सबसे पहले अपने मासिक बेसिक सैलरी की जांच करें, जो कि सातवें वेतन आयोग के वेतन मैट्रिक्स द्वारा तय किया जाता है। अपने मासिक मूल वेतन की जांच करने के बाद अपने मौजूदा डीए की जांच करें। वर्तमान में यह 17 प्रतिशत है। डीए बहाली के बाद यह 28 फीसदी तक जाएगा। इसलिए मासिक डीए 11 फीसदी बढ़ जाएगा। इसलिए, केंद्र सरकार के कर्मचारी का डीए भत्ता जुलाई 2021 से उनके मूल वेतन के 11 फीसदी तक बढ़ जाएगा। “

अगर 20000 है मूल वेतन तो इतना बढ़ जाएगा डीए

7 वें वेतन आयोग के तहत वेतन गणना को ध्यान में रखते हुए एक केंद्र सरकार के कर्मचारी का मासिक मूल वेतन 20,000 रुपये  है तो उसका मासिक डीए 20,000 का 28 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा। इसका मतलब है कि मासिक डीए में वृद्धि 20,000 रुपये का 11 प्रतिशत होगी यानी कुल 2200 रुपये।  इसी तरह, केंद्र सरकार के अन्य कर्मचारी जिनके 7 वें सीपीसी पे मैट्रिक्स में अलग-अलग मासिक मूल वेतन है, वे यह जांच सकते हैं कि डीए बहाली के बाद उनका वेतन कितना बढ़ जाएगा। बता दें केंद्र सरकार ने कोरोना महामारी के चलते महंगाई भत्ते को रोक दिया था, लेकिन इसको जल्द ही देने का प्लान बनाया जा रहा है। जुलाई में केंद्रीय कर्मचारियों के खाते में यह भत्ता ट्रांसफर किया जा सकता है।



Related posts

शराब के नशे में धुत्त जीप चालक ने एक्टिवा को उड़ाया, 7 साल के बच्चे की मौत, 2 घायल

admin

टाटा मोटर्स का घाटा 47% घटकर 4,450 करोड़ रुपए हुआ, लेकिन रेवेन्यू 66,406 करोड़ रुपए रहा

admin

जनधन योजना के तहत महिला खाताधारकों को दी गई 500 रुपये की सहायता

admin