Latest Headlines

राहत और उम्मीदों से भरी 3 खबरें, घट रही है बेरोजगारी, युवाओं को मिलेगी नौकरी, सस्ते होंगे पेट्रोल-डीजल


पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, बेरोजगारी और नई नौकरियों के मोर्चे पर राहत और उम्मीद भरी खबरें हैं। पहली राहत भरी खबर देश में बढ़ रही बेरोजगारी को लेकर है तो दूसरी युवाओं के लिए है। तीसरी खबर पेट्रोल-डीजल को लेकर है। आइए जानें क्या है इन खबरों में ….

राहत-1: छह महीने के निचले स्तर पर बेरोजगारी दर

देश में बेरोजगारी दर घटकर छह महीने के निचले स्तर पर पहुंच गई है। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) के मुताबिक 18 जुलाई को समाप्त हुए हफ्ते में बेरोजगारी दर घटकर 5.98 फीसदी पर आ गई। वहीं, इसके पहले वाले हफ्ते में बेरोजगारी की दर 7.64 फीसदी पर थी। 18 जुलाई को समाप्त सप्ताह के दौरान, बेरोजगारी की दर शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों दोनों में क्रमशः 8.9% और 7.06% से गिरकर 7.9% और 5.1% हो गई। उल्लेखनीय है कि कोरोना की दूसरी लहर के बाद एक बार फिर से बेरोजगारी दर दोहरे अंक में पहुंच गई थी, लेकिन लॉकडाउन खत्म होने के बाद तेजी से नीचे आई है।

राहत-2:आईटी कंपनियां 1.5 लाख युवाओं को नौकरी देंगी

मौजूदा समय में दुनिया भर में तकनीकी सेवाओं की मांग बढ़ रही है। ऐसे में आईटी सर्विस सेक्टर के विशेषज्ञों का अनुमान है कि इस सेक्टर में इस साल करीब 1.5 लाख लोगों की भर्ती की जाएगी। इसमें से करीब 1.2 लाख लोगों की भर्ती तो देश की शीर्ष चार आईटी कंपनियों टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस, इंफोसिस, एचसीएल टेक्नोलॉजीज और विप्रो में होगी। ये चारों कंपनियां देश के पूरे आईटी सेक्टर के कुल रिवेन्यू का एक तिहाई हिस्सा जनरेट करती हैं। वहीं एलटीआई और माइंडट्री जैसी मध्यम आकार की आईटी कंपनियां भी बड़ी संख्या में लोगों की भर्ती करेंगी।

राहत-3:  पेट्रोल-डीजल सस्ता होना तय: एक्सपर्ट्स

आने वाले दिनों में भारतीय बाजार में पेट्रोल-डीजल सस्ता होना तय है। क्योंकि हाल के दिनों में ब्रेंट क्रूड 78 डॉलर प्रति बैरल से टूटकर 68 डॉलत तक आ गया है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज के उपाध्यक्ष (कमोडिटी एवं करेंसी) अनुज गुप्ता ने हिन्दुस्तान को बताया कि  इस हफ्ते के अंत तक या अगले हफ्ते कच्चा तेल टूटकर 65 डॉलर के करीब पहुंच सकता है। ऐसा होने पर भारतीय बाजार में पेट्रोल तीन से पांच रुपये सस्ता हो सकता है। वहीं, केडिया कमोडिटी के डायरेक्‍टर अजय केडिया ने कहा कि कच्चे तेल में जल्द बड़ी तेजी की उम्मीद नहीं है। इसका असर आने वाले दिनों में देखने को मिलेगा। ब्रेंट क्रूड टूटकर 65 डॉलर के करीब आ जाएगा। यह भारत जैसे देशों के लिए बड़ी राहत की खबर होगी।



Related posts

प्रकृति से प्रेम और स्नेह करना सिखाती है ये लोकपर्व

admin

श्री गंगा दशहरा व्रत की शुभ स्तुति

admin

बाइडन ने संरा में खाद्य एवं कृषि पद के लिए सिंडी को किया नामित

admin