Latest Headlines

13,232 युद्धक विमानों का संचालन करता है अमेरिका


नई दिल्ली। अमेरिका की एयरफोर्स, आर्मी, नेवी और मरीन कॉर्प्स संयुक्त रूप से कुल 13,232 युद्धक विमानों का संचालन करती है। हाल में आई वर्ल्ड एयरफोर्स रिपोर्ट 2021 में यह दावा किया गया है। यह रिपोर्ट फ्लाइट इंटरनेशनल ने एम्ब्राएर के साथ मिलकर तैयार की गई है। अमेरिकी युद्धक विमानों की बात करें तो एफ-35 सेवा में आ चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद अमेरिका के पास सबसे ज्यादा एफ-16सी युद्धक विमान ही हैं। अमेरिकी बेड़े में इन विमानों की संख्या 803 है। वहीं यह विमान दुनियाभर में सबसे ज्यादा संख्या में मौजूद युद्धक है। दुनियाभर में कुल ऐसे 2,267 विमान हैं।

 अमेरिका के बाद दुनिया की दूसरी सबसे ताकतवर वायुसेना रूस के पास है। रूस के पास 4143 सैन्य विमान हैं। वहीं सुखोई एसयू-27/एसयू-30 अब भी रूस की वायुसेना की रीढ़ हैं। वहीं दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला ये दूसरा जहाज है। यूक्रेन, भारत और मलेशिया जैसे कई देशों के पास कुल मिलाकर 1000 सुखोई हैं। अब इन विमानों को उन्नत एसयू-57 का साथ मिल रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के पास दुनिया का तीसरा सबसे ताकतवर युद्धक विमानों का बेड़ा है। ड्रैगन के पास 3260 हवाई वॉर मशीन हैं। इनमें से अधिकांश भाग फ्लेंकर के स्वदेशी संस्करण के हैं। वहीं चीन के पास जे-10 और जे-20 स्टील्थ विमान भी हैं। स्टील्थ विमान वे युद्धक विमान होते हैं, जिनके सिग्नल को रडार पकड़ नहीं पाता है। वहीं भारत की बात करें तो उसके पास 2119 युद्धक हैं। इस तरह हमारा देश वायुसेना के लिहाज से चौथा सबसे ताकतवर देश बन जाता है। भारत के बेड़े में एचएएल तेजस, सुखोई-30, मिग-21, मिग-29, फ्रांस के रफेल और मिराज जैसे शक्तिशाली विमान शामिल हैं। वहीं हिंदुस्तान के पास ब्रिटेन-फ्रांस के जगुआर, पी-8 पैट्रोलिंग एयरक्राफ्ट और अपाचे अटैक हेलीकाप्टर भी हैं।  



Related posts

कैसा रहेगा आपका आज का दिन (16 अप्रैल 2021) – indianewsportal.com

admin

Special discussion program on ‘Sharing of All India Radio News with private FM channels’

admin

स्पूतनिक-वी की मात्र एक डोज ही कोरोना वायरस से जंग में बेहद कारगर: अध्ययन

admin